Breaking News
मुख्यमंत्री धामी ने चम्पावत को आदर्श जनपद बनाने के लिए बनाई जा रही कार्ययोजना और कार्यों की समीक्षा की
मुख्यमंत्री धामी ने चम्पावत को आदर्श जनपद बनाने के लिए बनाई जा रही कार्ययोजना और कार्यों की समीक्षा की
अब सैमसंग वॉलेट के जरिये कर सकेंगे फ्लाइट, बस, फिल्में और इवेंट की टिकट बुकिंग
अब सैमसंग वॉलेट के जरिये कर सकेंगे फ्लाइट, बस, फिल्में और इवेंट की टिकट बुकिंग
मुख्य सचिव से सीआरपीएफ के प्रशिक्षु अधिकारियों ने की शिष्टाचार भेंट
मुख्य सचिव से सीआरपीएफ के प्रशिक्षु अधिकारियों ने की शिष्टाचार भेंट
महाराज ने आपदा प्रभावित ग्राम सुकई के परिवारों को राहत सामग्री की वितरित
महाराज ने आपदा प्रभावित ग्राम सुकई के परिवारों को राहत सामग्री की वितरित
चौंदकोट के लाल साकेत ने किया कमाल
चौंदकोट के लाल साकेत ने किया कमाल
कृषि मंत्री बनते ही एक्शन में शिवराज सिंह चौहान, इन प्रस्तावों को दी मंजूरी
कृषि मंत्री बनते ही एक्शन में शिवराज सिंह चौहान, इन प्रस्तावों को दी मंजूरी
बहुमंजिला इमारत में लगी भीषण आग, 49 लोगों की मौत, मृतकों में 40 भारतीय
बहुमंजिला इमारत में लगी भीषण आग, 49 लोगों की मौत, मृतकों में 40 भारतीय
मुख्य सचिव ने 383.11 करोड़ रूपये के प्रोजेक्ट तत्काल नाबार्ड को भेजने के दिए सख्त निर्देश 
मुख्य सचिव ने 383.11 करोड़ रूपये के प्रोजेक्ट तत्काल नाबार्ड को भेजने के दिए सख्त निर्देश 
रोजाना खाली पेट कच्चा लहसुन खाने से मिल सकते हैं कई स्वास्थ्य लाभ
रोजाना खाली पेट कच्चा लहसुन खाने से मिल सकते हैं कई स्वास्थ्य लाभ

पहाड़ों में जंगल की आग पर काबू पाने की तैयारियां हुई शुरू

[ad_1]

देहरादून। जिलाधिकारी गढ़वाल डॉ विजय कुमार जोगदण्डे की अध्यक्षता में कल देर सांय को कलेक्ट्रेट सभागार में जिला स्तरीय वनाग्नि सुरक्षा कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि वनाग्नि को रोकथाम के लिए हर नागरीक को आगे आना चाहिए, जिससे पर्यावरण के साथ ही पेड़-पौधे सुरक्षित रह सकेंगे। उन्होंने संबंधित अधिकारी को निर्देशित किया कि फायर सीजन को लेकर अभी से तैयारियां पूरा करना सुनिश्चित करें। उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि वन विभाग को जनपद के समस्त ग्राम प्रधान, ग्राम विकास अधिकारी, होमगार्ड, पीआरडी और जिन कार्मिकों की पोलिंग बूथों में ड्यटी लगी थी उनके संपर्क नम्बर उपलब्ध कराएं, जिससे उस क्षेत्र में आग की घटना होने पर उन्हें संपर्क कर सूचित किया जा सकेगा।

जिलाधिकारी ने आयोजित बैठक में डीएफओ गढ़वाल को निर्देशित किया कि सड़कों के किनारे फैले पिरूल को एकत्रित कर नष्ट करें। जिससे आग लगने की संभावनाएं कम हो सकेंगी। साथ ही जनपद में सांस्कृतिक प्रोग्रामों के माध्यम से जन जागरूक अभियान चलाएं, जिससे लोग वनाग्नि के प्रति जागरूक हो सकेंगे। उन्होंने प्रत्येक ग्राम पंचायत में वनाग्नि संबंधित जागरूक पोस्टर लगाने के निर्देश भी दिये। जिलाधिकारी ने डीएफओ को निर्देशित किया कि मार्च, 2022 के अंतिम सप्ताह में मॉक ड्रिल का आयोजन करवाएं, जिससे कार्मिकों को आग पर काबू पाने के लिए काफी सहायता मिलेगी। उन्होंने कहा कि जिन क्षेत्रों में आग लगने की ज्यादा घटना होती है वहां नियमित रूप से गस्त बड़ाना सुनिश्चित करें।



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top