Breaking News
गर्मियां शुरू होते ही जंगल की आग होने लगी बेकाबू, भारी मात्रा में वन संपदा को नुकसान 
गर्मियां शुरू होते ही जंगल की आग होने लगी बेकाबू, भारी मात्रा में वन संपदा को नुकसान 
बीजेपी ने स्टार प्रचारक की लिस्ट से हटाया सीएम शिंदे और डिप्टी सीएम अजित पवार का नाम
बीजेपी ने स्टार प्रचारक की लिस्ट से हटाया सीएम शिंदे और डिप्टी सीएम अजित पवार का नाम
आईपीएल 2024- राजस्थान रॉयल्स और पंजाब किंग्स के बीच मुकाबला आज 
आईपीएल 2024- राजस्थान रॉयल्स और पंजाब किंग्स के बीच मुकाबला आज 
कड़े कानून लागू करने से लेकर हर वर्ग का कल्याण किया- मुख्यमंत्री
कड़े कानून लागू करने से लेकर हर वर्ग का कल्याण किया- मुख्यमंत्री
विक्की कौशल, तृप्ति डिमरी और ऐमी विर्क बड़े पर्दे पर मचाएंगे धमाल, फिल्म ‘बैड न्यूज’ की रिलीज तारीख का हुआ ऐलान
विक्की कौशल, तृप्ति डिमरी और ऐमी विर्क बड़े पर्दे पर मचाएंगे धमाल, फिल्म ‘बैड न्यूज’ की रिलीज तारीख का हुआ ऐलान
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने न्याय संकल्प सभा को किया संबोधित, कहा उत्तराखंड से उनका खास रिश्ता है…..
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने न्याय संकल्प सभा को किया संबोधित, कहा उत्तराखंड से उनका खास रिश्ता है…..
सुप्रीम कोर्ट 15 अप्रैल को अरविंद केजरीवाल की याचिका पर करेगा सुनवाई
सुप्रीम कोर्ट 15 अप्रैल को अरविंद केजरीवाल की याचिका पर करेगा सुनवाई
चार धाम सहित पंचकेदार पंच बदरी के कपाट खुलने की तिथियां घोषित
चार धाम सहित पंचकेदार पंच बदरी के कपाट खुलने की तिथियां घोषित
सिरदर्द होने पर तुरंत पेनकिलर न खाएं, इस बीमारी का बढ़ जाता है खतरा
सिरदर्द होने पर तुरंत पेनकिलर न खाएं, इस बीमारी का बढ़ जाता है खतरा

शुगर मिल के गेट पर धरने पर बैठ गए पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत

[ad_1]

देहरादून। उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत एक बार फिर शुगर मिल के गेट पर धरने पर बैठ गए हैं। वे डोईवाला शुगर मिल पर प्रदेश में अभी तक गन्ना मूल्य तय न करने का विरोध कर रहे हैं। उनके साथ कांग्रेस के कई कार्यकर्त्ता भी धरना स्थल पर मौजूद हैं।
शुगर मिल के गेट पर धरना दे रहे हरीश रावत ने कहा कि किसानों पर जो तीन काले कानून थोपे गए हैं, इससे किसानों का अपना और उनके बच्चों का भविष्य अंधकार में नजर आ रहा है। उत्तराखंड में तीन और समस्याएं किसानों के सामने उठ खड़ी हुई है। एक तो अभी तक गन्ने का मूल्य भुगतना इकबालपुर चीनी मिल में नहीं हुआ है। गन्ने का खरीद मूल्य घोषित ने होने से किसान सिर्फ अंदाज ही लगा रहा है उनका गन्ना कितने का होगा। तो जल्द इसका मूल्य घोषित हो जाना चाहिए।

धरनास्थल पर गन्ना समिति के अध्यक्ष मनोज नौटियाल, मोहित उनियाल, राजवीर खत्री, अनिल सैनी, मधु थापा, मोंटी सिंह, सागर मनवाल, ईश्वर पाल, अब्दुल रज्जाक, गौरव मल्होत्रा, उमेद बोरा, राजेश सिंगारी, गुरदीप सिंह, लक्ष्मण सिंह बिष्ट, सुरजीत सिंह, राहुल सैनी, बलविंदर सिंह, सुनील राठी आदि मौजूद हैं।



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top