Breaking News
सोने की सबसे बड़ी चोरी में पुलिस को सफलता, पंजाबी युवक समेत छह आरोपी गिरफ्तार
सोने की सबसे बड़ी चोरी में पुलिस को सफलता, पंजाबी युवक समेत छह आरोपी गिरफ्तार
आईपीएल 2024 के 34वें मैच में आज लखनऊ सुपर जाएंट्स से भिड़ेगी चेन्नई सुपर किंग्स
आईपीएल 2024 के 34वें मैच में आज लखनऊ सुपर जाएंट्स से भिड़ेगी चेन्नई सुपर किंग्स
लोकसभा और विधानसभा चुनावों में दोपहर 1 बजे तक अरुणाचल में 37%, सिक्किम में 36% मतदान, यहां जानें अन्य राज्यों के अपडेट
लोकसभा और विधानसभा चुनावों में दोपहर 1 बजे तक अरुणाचल में 37%, सिक्किम में 36% मतदान, यहां जानें अन्य राज्यों के अपडेट
कांग्रेस को दिया एक- एक वोट उत्तराखंड की बेटी अंकिता भंडारी को देगा श्रद्धांजलि- राजीव महर्षि
कांग्रेस को दिया एक- एक वोट उत्तराखंड की बेटी अंकिता भंडारी को देगा श्रद्धांजलि- राजीव महर्षि
उत्तराखण्ड में दोपहर 1 बजे तक 37.33 मतदाताओं ने डाले वोट
उत्तराखण्ड में दोपहर 1 बजे तक 37.33 मतदाताओं ने डाले वोट
जल्द ही 1 लाख रुपए तक जा सकती है सोने की कीमत, चांदी में भी आ सकती है उछाल 
जल्द ही 1 लाख रुपए तक जा सकती है सोने की कीमत, चांदी में भी आ सकती है उछाल 
बालों में कितने दिन बाद तेल लगाना सही है, रोजाना तेल लगाना बालों के लिए हो सकता है खतरनाक
बालों में कितने दिन बाद तेल लगाना सही है, रोजाना तेल लगाना बालों के लिए हो सकता है खतरनाक
कैबिनेट मंत्री महाराज ने अपने विधानसभा क्षेत्र में किया मतदान
कैबिनेट मंत्री महाराज ने अपने विधानसभा क्षेत्र में किया मतदान
सीएम धामी और राज्यपाल गुरमीत सिंह ने परिवार संग किया मतदान 
सीएम धामी और राज्यपाल गुरमीत सिंह ने परिवार संग किया मतदान 

यशपाल आर्य पर हमले के विरोध में दलित एकता मंच व कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दिया धरना

[ad_1]

हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर राज्यपाल को भेजा ज्ञापन

हरिद्वार। भाजपा छोड़कर कांग्रेस में वापस आए पूर्व कैबिनेट मंत्री यशपाल आर्य व उनके पुत्र पूर्व विधायक संजीव आर्य के हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर दलित एकता मंच एवं कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय पर धरना प्रदर्शन किया।  धरना दे रहे कार्यकर्ताओं ने यशपाल आर्य व संजीव आर्य को सुरक्षा उपलब्ध कराने की मांग भी की। धरने के पश्चात सिटी मजिस्ट्रेट को ज्ञापन प्रेषित किया गया।   धरने का संबोधित करते हुए पूर्व कांग्रेस प्रदेश महासचिव अशोक धींगान ने कहा कि यशपाल आर्य व उनके बेटे संजीव आर्य पर एक सोची समझी साजिश के तहत जानलेवा हमला किया गया। उन्होंन कहा कि हमलावरों को तत्काल गिरफ्तार कर जेल भेजा जाए और यशपाल आर्य व संजीव आर्य को सुरक्षा उपलब्ध करायी जाए।

दलित एकता मंच के अध्यक्ष बालेश्वर सिंह ने आरोप लगाते हुए कहा कि यशपाल आर्य व संजीव आर्य के भाजपा छोड़ने के बाद हताशा से गुजर रही भाजपा सरकार ने उनकी सुरक्षा वापस ले ली। इसका फायदा उठाकर गुण्डों ने उन पर जानलेवा हमला किया। उन्हें बचाने आए लोगों पर भी हमला किया गया। जिससे कई लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्होंने कहा कि हमलावरों को तत्काल गिरफ्तार किया जाए।   दलित एकता मंच के महासचिव तीरथ पाल रवि, पूर्व जिला पंचायत सदस्य रोशनलाल, नगर निगम कर्मचारी नेता सुरेंद्र तेश्वर व सीपी सिंह ने कहा कि राजनीतिक साजिश के तहत हमले को अंजाम दिया गया। हमलावरों को तत्काल गिरफ्तार किया जाए। वरना सड़कों पर उतरकर आंदोलन किया जाएगा।

धरना देने वालों में चौधरी बलजीत सिंह, कैलाश प्रधान, अशोक प्रधान, मेहर सिंह, ऋषिपाल बाल्मिीकि, हरद्वारी लाल, जयपाल, अमरदीप रोशन, सोरण सिंह, मौहम्मद फरमान, विनोद तोमर, सतीश दुबे, रवि बहादुर, नत्थू सिंह, डा.सेवक राम, श्याम कुमार, राशिद सलमानी, अजय मुखिया, विशाल काटी, अमित राजपूत, रफल पाल, कपिल टपरानी, दिनेश कुमार दुबे, फूलकुमार नायडू, अशोक कुमार, सतबीर, दिनेश कुमार, नत्थू सिंह, कुलमेंद्र, राजेंद्र कुमार, जगपाल सिंह, पप्पू खैरवाल, विनोद वाल्मिीकि, श्याम सिंह, जान मोहम्मद, राजकुमार, रविन्द्र कुमार, किशन, प्रकाश, चौहल सिंह, राजकुमार, राजेंद सिंह, रोहित कुमार, राजेंद्र भंवर, राजेश छाछर, सुक्रमपाल , सुनीता सिंह सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top