Breaking News
गर्मियां शुरू होते ही जंगल की आग होने लगी बेकाबू, भारी मात्रा में वन संपदा को नुकसान 
गर्मियां शुरू होते ही जंगल की आग होने लगी बेकाबू, भारी मात्रा में वन संपदा को नुकसान 
बीजेपी ने स्टार प्रचारक की लिस्ट से हटाया सीएम शिंदे और डिप्टी सीएम अजित पवार का नाम
बीजेपी ने स्टार प्रचारक की लिस्ट से हटाया सीएम शिंदे और डिप्टी सीएम अजित पवार का नाम
आईपीएल 2024- राजस्थान रॉयल्स और पंजाब किंग्स के बीच मुकाबला आज 
आईपीएल 2024- राजस्थान रॉयल्स और पंजाब किंग्स के बीच मुकाबला आज 
कड़े कानून लागू करने से लेकर हर वर्ग का कल्याण किया- मुख्यमंत्री
कड़े कानून लागू करने से लेकर हर वर्ग का कल्याण किया- मुख्यमंत्री
विक्की कौशल, तृप्ति डिमरी और ऐमी विर्क बड़े पर्दे पर मचाएंगे धमाल, फिल्म ‘बैड न्यूज’ की रिलीज तारीख का हुआ ऐलान
विक्की कौशल, तृप्ति डिमरी और ऐमी विर्क बड़े पर्दे पर मचाएंगे धमाल, फिल्म ‘बैड न्यूज’ की रिलीज तारीख का हुआ ऐलान
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने न्याय संकल्प सभा को किया संबोधित, कहा उत्तराखंड से उनका खास रिश्ता है…..
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने न्याय संकल्प सभा को किया संबोधित, कहा उत्तराखंड से उनका खास रिश्ता है…..
सुप्रीम कोर्ट 15 अप्रैल को अरविंद केजरीवाल की याचिका पर करेगा सुनवाई
सुप्रीम कोर्ट 15 अप्रैल को अरविंद केजरीवाल की याचिका पर करेगा सुनवाई
चार धाम सहित पंचकेदार पंच बदरी के कपाट खुलने की तिथियां घोषित
चार धाम सहित पंचकेदार पंच बदरी के कपाट खुलने की तिथियां घोषित
सिरदर्द होने पर तुरंत पेनकिलर न खाएं, इस बीमारी का बढ़ जाता है खतरा
सिरदर्द होने पर तुरंत पेनकिलर न खाएं, इस बीमारी का बढ़ जाता है खतरा

सीडीएस बिपिन रावत का उत्तराखंड से गहरा नाता

[ad_1]

देहरादून। सीडीएस बिपिन रावत का उत्तराखंड से गहरा नाता है। रावत कई बार उत्तराखंड दौरे पर आ चुके हैं। सीडीएस रावत का जन्म उत्तराखंउ के पौड़ी जिले में हुआ था। रावत का पैतृक गांव सैंणा, पौड़ी गढ़वाल के द्वारीखाल ब्लॉक में पड़ता है। रावत की प्रारंभिक पढ़ाई देहरादून में हुई थी जिसके बाद वह शिमला चले गए थे। सीडीएस रावत ने खड़गवासला स्थित एनडीए ज्वाइन कर लिया था। आईएमए से पासआउट होने के बाद सीडीएम रावत 16 दिसंबर 1978 को गोरखा रेजिमेंट में कमीशन प्राप्त कर ऑफिसर बने थे। आईएमए में सीडीएस रावत को स्वॉर्ड ऑफ ऑनर से भी नवाजा गया था।
 उत्तराखंड से जुड़े कई मुद्दों पर सीडीएम रावत हमेशा से सक्रिय रहे हैं। चाहे, भारत-चीन बॉर्डर पर इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट की बात हो या फिर सेना भर्ती की बात हो, सीडीएस रावत ने हमेशा ही पहल करते हुए हर समस्या का हल निकाला है। हाल ही में, वह गढ़वाल विश्वविद्यालय के नौवें दीक्षांत समारोह में 01 दिसंबर को भी उत्तराखंड आए थे। इससे पहले वह उत्तराखंड स्थापना दिवस 09 दिसबंर को भी देहरादून आए थे
उन्होंने अरुणाचल प्रदेश में भारतीय सीमा के भीतर चीन का गांव बस जाने संबंधित अमेरिकी रक्षा विभाग के दावे को खारिज किया था। रावत ने दो टूक कहा है कि हमारी सीमा कहां तक है यह हमें खूब पता है, हमारी सीमा में कोई गांव नहीं बसा है। अमेरिकी दावे के अनुसार, चीन ने अरुणाचल प्रदेश में एक बहुत बड़ा गांव बनाने के साथ सेना की चौकी भी बना ली है। गढ़वाल विश्वविद्यालय में सीडीएस रावत ने छात्रों को को गोल्ड मेडल और डिग्रियां भी दी थीं।

साथ ही युवाओं को आह्वान किया था नौकरी ढूंढने के बजाय नौकरी देने  वाला काम करें। तमिलनाडु के कुन्नूर में विमान क्रेश होने की खबर लगते हैं कि उत्तराखंड में भी लोग पल-पल की सूचनाओं पर नजरें लगाये बैठे रहे और उनके कुशलता की कामना करते रहे लेकिन शाम को आखिर बुरी खबर आ ही गयी। उन्होंने युवाओं से आह्वान भी किया था कि वह सेना को ज्वाइन करने में आगे आएं। आपको बता दें कि तमिलनाडु के कुन्नूर में बुधवार सुबह सेना का हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया। इस चौपर में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत भी पत्नी मधुलिका रावत के साथ मौजूद थे। हेलिकॉप्टर सवार लोगों को बचाने के लिए अभियान जारी था लेकिन आखिर दुखद खबर ने यहां के लोगों को मायूस  कर दिया। वायुसेना ने कहा है कि दुर्घटना के कारणों का पता लगाने के लिए जांच के आदेश दे दिए गये हैं।  



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top