Breaking News
सोने की सबसे बड़ी चोरी में पुलिस को सफलता, पंजाबी युवक समेत छह आरोपी गिरफ्तार
सोने की सबसे बड़ी चोरी में पुलिस को सफलता, पंजाबी युवक समेत छह आरोपी गिरफ्तार
आईपीएल 2024 के 34वें मैच में आज लखनऊ सुपर जाएंट्स से भिड़ेगी चेन्नई सुपर किंग्स
आईपीएल 2024 के 34वें मैच में आज लखनऊ सुपर जाएंट्स से भिड़ेगी चेन्नई सुपर किंग्स
लोकसभा और विधानसभा चुनावों में दोपहर 1 बजे तक अरुणाचल में 37%, सिक्किम में 36% मतदान, यहां जानें अन्य राज्यों के अपडेट
लोकसभा और विधानसभा चुनावों में दोपहर 1 बजे तक अरुणाचल में 37%, सिक्किम में 36% मतदान, यहां जानें अन्य राज्यों के अपडेट
कांग्रेस को दिया एक- एक वोट उत्तराखंड की बेटी अंकिता भंडारी को देगा श्रद्धांजलि- राजीव महर्षि
कांग्रेस को दिया एक- एक वोट उत्तराखंड की बेटी अंकिता भंडारी को देगा श्रद्धांजलि- राजीव महर्षि
उत्तराखण्ड में दोपहर 1 बजे तक 37.33 मतदाताओं ने डाले वोट
उत्तराखण्ड में दोपहर 1 बजे तक 37.33 मतदाताओं ने डाले वोट
जल्द ही 1 लाख रुपए तक जा सकती है सोने की कीमत, चांदी में भी आ सकती है उछाल 
जल्द ही 1 लाख रुपए तक जा सकती है सोने की कीमत, चांदी में भी आ सकती है उछाल 
बालों में कितने दिन बाद तेल लगाना सही है, रोजाना तेल लगाना बालों के लिए हो सकता है खतरनाक
बालों में कितने दिन बाद तेल लगाना सही है, रोजाना तेल लगाना बालों के लिए हो सकता है खतरनाक
कैबिनेट मंत्री महाराज ने अपने विधानसभा क्षेत्र में किया मतदान
कैबिनेट मंत्री महाराज ने अपने विधानसभा क्षेत्र में किया मतदान
सीएम धामी और राज्यपाल गुरमीत सिंह ने परिवार संग किया मतदान 
सीएम धामी और राज्यपाल गुरमीत सिंह ने परिवार संग किया मतदान 

36 यमकेश्वर विधानसभा सीट से संगठन और संघ की सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक वर्तमान विधायक के बाद दूसरे नम्बर के सबसे मजबूत दावेदार महावीर प्रसाद कुकरेती

[ad_1]

यमकेश्वर। राज्य में आचार संहिता लागू हो गयी है, अभी तक बीजेपी और कांग्रेस ने अभी तक प्रत्याशियों का चयन नहीं किया है। राज्य की 36 नम्बर की विधानसभा सीट पर अभी तक काग्रेंस और बीजेपी साथ ही आप पार्टी ने अपने पत्ते नहीं खोले हैं। इस सीट पर अभी तक सभी दावेदारों में संशय बना है। सूत्रों के हवाले खबर के अनुसार यमकेश्वर में बीजेपी पहले वर्तमान विधायक को ही टिकट दिया जाना तय माना जा रहा है, लेकिन स्थानीय विरोध के चलते अभी संशय बरकरार है।

पार्टी संगठन और संघ की सर्वे रिर्पोर्ट में तीन दावेदारों के नाम यमकेश्वर से भेजे गये हैं, जिनमें पहला नाम सीटींग विधायक  ऋतु खण्डूरी का है, जबकि दूसरा नाम संगठन और पूर्व के चारों चुनाव में महत्वपूर्ण भूमिका एवं पार्टी के संकटमोचक रहे महावीर प्रसाद कुकरेती और तीसरे नाम पूर्व विधायक बिजया बड़थ्वाल बताया जा रहा है। वर्तमान विधायक ऋतु खण्डूरी के टिकट नहीं दिये जाने की स्थिति में सबसे मजबूत दावेदार महावीर प्रसाद कुकरेती को बताया गया है।
महावीर प्रसाद कुकरेती यमकेश्वर विधानसभा के यमकेश्वर डांडामण्डल क्षेत्र के दिवोगी ग्राम सभा मरोड़ा गॉव के मूल निवासी हैं, पार्टी संगठन से लगभग 30 सालों से अधिक समय से सेवा दे रहे हैं, पूर्व में जिलाध्यक्ष पौड़ी एवं पार्टी के जिलाध्यक्ष बतौर कोटद्वार रहे। इससे पूर्व सांसद चुनाव में टिहरी प्रभारी, वर्ष 2017 में थराली से चुनाव प्रभारी, और संगठन की ओर से झारखण्ड और बंगाल, बिहार सहित कई राज्यों में चुनावों का संफल संचालन किया। यमकेश्वर विधानसभा सीट की बात की जाय तो उन्होंने बीजेपी को वहॉ सबसे मजबूत किया। बीजेपी के शुरूवाती दौर में पैदल गॉव गॉव भ्रमण कर जन जन को बीजेपी से जोड़ने में महत्वपूर्ण भूमिका रही। वहीं संघ को यमकेश्वर में स्थापित करने का श्रेय भी महावीर प्रसाद कुकरेती को जाता है।

यूपी के समय यमकेश्वर क्षेत्र लैंसडाउन विधानसभा के अन्तर्गत आता था, तात्कालीन विधायक भारत सिंह रावत के साथ दुगड्डा, द्वारीखाल से लेकर यमकेश्वर क्षेत्र और पूरे सल्ट क्षेत्र तक 52 दिन की पैदल यात्रा कर क्षेत्र की भौगोलिक परिस्थितियों से वाकिफ है। पूर्व मुख्यमंत्री मेजर जनरल भुवन चन्द्र खण्डूरी के करीबी माने जाते रहे हैं, उनके सांसद प्रतिनिधि के तौर पर क्षेत्र का भ्रमण कर बीजेपी को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका मानी जाती है। क्षेत्र में बीजेपी संगठन के सभी कार्यकलापों में उनकी भागीदारी बढचढकर रहती है, इसलिए बीजेपी का हर कार्यकर्ता उनसे सीधा जुड़ाव रखता है। तीनों मण्डलों में उनकी मजबूत पकड़ मानी जाती है।
क्षेत्र में पार्टी संगठन के साथ साथ क्षेत्र विकास में उनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही है, जिसमें से कौड़िया किमसार मोटर मार्ग का आंदोलन से लेकर धारकोट जुलेड़ी मोटर मार्ग का निर्माण, तालघाटी झील के लिए प्रयास के साथ ही दुग़ड्डा सिमलणा मोटर मार्ग आदि के लिए बतौर संगठन उन्होनें सरकार तक आम जन की समस्याओं को पहॅुचाने का प्रयास किया। यदि बीजेपी लोकल फॉर वोकल को तवज्जो देती है तो यमकेश्वर से सबसे मजबूत दावेदार के तौर पर महावीर प्रसाद कुकरेती सबसे आगे माने जा रहे हैं। हालांकि अभी पार्टी पहले वर्तमान सीटिंग विधायक को ही पहले तवज्जों देना चाहेगी, यदि किन्हीं कारणों से उनके नाम पर विचार नहीं किया जाता है तब महावीर प्रसाद कुकरेती सबसे मजबूत दावेदार माने जा रहे हैं।



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top