Breaking News
सोने की सबसे बड़ी चोरी में पुलिस को सफलता, पंजाबी युवक समेत छह आरोपी गिरफ्तार
सोने की सबसे बड़ी चोरी में पुलिस को सफलता, पंजाबी युवक समेत छह आरोपी गिरफ्तार
आईपीएल 2024 के 34वें मैच में आज लखनऊ सुपर जाएंट्स से भिड़ेगी चेन्नई सुपर किंग्स
आईपीएल 2024 के 34वें मैच में आज लखनऊ सुपर जाएंट्स से भिड़ेगी चेन्नई सुपर किंग्स
लोकसभा और विधानसभा चुनावों में दोपहर 1 बजे तक अरुणाचल में 37%, सिक्किम में 36% मतदान, यहां जानें अन्य राज्यों के अपडेट
लोकसभा और विधानसभा चुनावों में दोपहर 1 बजे तक अरुणाचल में 37%, सिक्किम में 36% मतदान, यहां जानें अन्य राज्यों के अपडेट
कांग्रेस को दिया एक- एक वोट उत्तराखंड की बेटी अंकिता भंडारी को देगा श्रद्धांजलि- राजीव महर्षि
कांग्रेस को दिया एक- एक वोट उत्तराखंड की बेटी अंकिता भंडारी को देगा श्रद्धांजलि- राजीव महर्षि
उत्तराखण्ड में दोपहर 1 बजे तक 37.33 मतदाताओं ने डाले वोट
उत्तराखण्ड में दोपहर 1 बजे तक 37.33 मतदाताओं ने डाले वोट
जल्द ही 1 लाख रुपए तक जा सकती है सोने की कीमत, चांदी में भी आ सकती है उछाल 
जल्द ही 1 लाख रुपए तक जा सकती है सोने की कीमत, चांदी में भी आ सकती है उछाल 
बालों में कितने दिन बाद तेल लगाना सही है, रोजाना तेल लगाना बालों के लिए हो सकता है खतरनाक
बालों में कितने दिन बाद तेल लगाना सही है, रोजाना तेल लगाना बालों के लिए हो सकता है खतरनाक
कैबिनेट मंत्री महाराज ने अपने विधानसभा क्षेत्र में किया मतदान
कैबिनेट मंत्री महाराज ने अपने विधानसभा क्षेत्र में किया मतदान
सीएम धामी और राज्यपाल गुरमीत सिंह ने परिवार संग किया मतदान 
सीएम धामी और राज्यपाल गुरमीत सिंह ने परिवार संग किया मतदान 

महिला स्वास्थ्य और रोजगार पर सीएम धामी ने जगाई उम्मीदें, उत्तराखंड का सुविधा सम्पन्न ज़िला बनने की ओर अग्रसर चम्पावत

महिला स्वास्थ्य और रोजगार पर सीएम धामी ने जगाई उम्मीदें, उत्तराखंड का सुविधा सम्पन्न ज़िला बनने की ओर अग्रसर चम्पावत

[ad_1]

चंपावत। उत्तराखंड में विकास की दृष्टि से पिछ्ड़े चंपावत में उप चुनाव को लेकर गहमागहमी है। प्रचार प्रसार चल रहा है और भाजपा तथा कांग्रेस तमाम मुद्दों को लेकर जनता के बीच मे है। रोजगार के साथ ही स्वास्थ्य और शिक्षा में जिन मुद्दों को मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने छुआ है अगर, धरातल पर उतरे तो चंपावत की गिनती प्रदेश के सुविधा संपन्न जिले के रूप में होगी। अन्य पर्वतीय जिलों की भांति चंपावत में भी स्वास्थ्य सुविधाओं की समस्या है। ज़िला अस्पताल से सीएचसी 75 किलोमीटर दूर है। महिलाओं को सबसे अधिक स्वास्थ्य दिक्क़ते झेलनी पड़ती है। प्रसव पीड़ा से परेशान महिलाओं को दूरस्थ क्षेत्रों मे डोली के माध्यम से अस्पताल पहुँचाया जाता हैं। वहीं अस्पतालों मंे डॉक्टर ओर पैरामेडिकल स्टॉफ का टोटा बना हुआ है। सड़क दुर्घटना, प्राकृतिक आपदा अथवा अन्य वजह से गंभीर मरीजों के सामने निजी अस्पतालो का रुख करने के अलावा कोई विकल्प नहीं होता। लेकिन सीएम की घोषणा से उम्मीद बढ़ी है। उसमें सयुंक्त चिकित्सालय टनकपुर में सर्जनो की तैनाती और सुविधाओं के विस्तार के साथ टनकपुर में बंद पड़े ट्रामा सेन्टर के दोबारा संचालन के अश्वासन से लोगों को राहत मिल सकती है। क्षेत्र के लोग इन मांगो को लम्बे समय से उठाते रहे हैं।

वहीं सलोनी जंगल मे सिडकुल खुलने से क्षेत्र के हजारों युवाओं के लिए रोजगार के अवसर खुलेंगे। आसपास के अन्य जिलों को भी रोजगार मिल सकेगा। रुर्द्पुर और सितारगंज के बाद चंपावत को औधोगिक क्षेत्र के रूप में पहचान मिल सकेगी। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी अपनी सभाआंे में साफ तौर पर कह चुके हैं कि उनके द्वारा जो भी अश्वासन क्षेत्र की जनता को दिए गये है उन पर गहन अध्ययन किया गया है। पूर्व में भी जो घोषणाए हुई उन पर अमल किया गया है और नतीजे दिख रहे हैं। सीएम के लिये सीट छोड़ने वाले पूर्व विधायक कैलाश गहतोड़ी ने सीट छोड़ने के लिये चंपावत के विकास को आधार बताया। अगर, घोषणाओ पर अमल हुआ तो लोगों को स्वास्थ्य और रोजगार जैसी समस्याओं से काफी राहत मिल सकती



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top