Breaking News
शिक्षकों को सम्पूर्ण सेवा काल में एक बार मिलेगा संवर्ग परिवर्तन का मौका
शिक्षकों को सम्पूर्ण सेवा काल में एक बार मिलेगा संवर्ग परिवर्तन का मौका
पाकिस्तान के पूर्व मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने इण्डिया गठबंधन को दी शुभकामनाएं, कहा- सब चाहते है पीएम मोदी हारें…
पाकिस्तान के पूर्व मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने इण्डिया गठबंधन को दी शुभकामनाएं, कहा- सब चाहते है पीएम मोदी हारें…
उपराष्ट्रपति के उत्तराखण्ड दौरे की तैयारी को दिया फाइनल टच
उपराष्ट्रपति के उत्तराखण्ड दौरे की तैयारी को दिया फाइनल टच
सीएम धामी ने स्वर्ण मंदिर में मत्था टेका
सीएम धामी ने स्वर्ण मंदिर में मत्था टेका
विक्रांत मैसी और मौनी रॉय स्टारर फिल्म ब्लैकआउट का दमदार टीजर हुआ रिलीज, 7 जून को जियो सिनेमा पर होगा प्रीमियर
विक्रांत मैसी और मौनी रॉय स्टारर फिल्म ब्लैकआउट का दमदार टीजर हुआ रिलीज, 7 जून को जियो सिनेमा पर होगा प्रीमियर
मुख्यमंत्री के निर्देशों पर उत्तराखण्ड स्वास्थ्य विभाग ने अस्पतालों के लिए जारी की अग्नि सुरक्षा एडवाइजरी
मुख्यमंत्री के निर्देशों पर उत्तराखण्ड स्वास्थ्य विभाग ने अस्पतालों के लिए जारी की अग्नि सुरक्षा एडवाइजरी
विपक्षी पार्टियों को सबक सिखाकर, भाजपा को समर्थन देगी जनता- सीएम
विपक्षी पार्टियों को सबक सिखाकर, भाजपा को समर्थन देगी जनता- सीएम
आप भी करवा रही हैं लिप फिलर? ये बात ध्यान रखें वरना होठों को हो सकता है नुकसान
आप भी करवा रही हैं लिप फिलर? ये बात ध्यान रखें वरना होठों को हो सकता है नुकसान
बेसिक शिक्षकों के 3600 पदों पर होगी भर्ती
बेसिक शिक्षकों के 3600 पदों पर होगी भर्ती

पहाड़ पर बारिश से बदरीनाथ-केदारनाथ सहित चारधाम यात्रियों की संख्या घटने लगी

पहाड़ पर बारिश से बदरीनाथ-केदारनाथ सहित चारधाम यात्रियों की संख्या घटने लगी

[ad_1]

ऋषिकेश। उत्तराखंड के पहाड़ों में बारिश होने की खबर का चारधाम यात्रा पर असर पड़ने लगा है। अब चारधाम यात्रियों की संख्या में कमी आने लगी है। चारधाम के लिए ऋषिकेश में 15 मई के आसपास जहां पांच से सात हजार तक पंजीकरण हो रहे थे, वहीं अब फोटोमैट्रिक ऑनलाइन पंजीकरण काउंटर में पंजीकरण की संख्या 1400 के करीब रह गई है।

खराब मौसब और पहाड़ में बारिश को देखते हुए चारधाम यात्रियों की संख्या में कमी देखने को मिली है। करीब एक माह तक यात्रा अपने पूरे चरम पर रही है। इस वजह से सरकार और प्रशासन की व्यवस्था भी कम पड़ गई थी। लोगों को यात्रा के लिए पंजीकरण कराने में भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। स्थिति यह थी कि यात्रियों को दर्शन के लिए कई दिन बाद की तिथि दी जा रही थी। ऋषिकेश में मई माह में पांच से सात हजार तक तीर्थयात्री पंजीकरण करा रहे थे, लेकिन अब यात्रा की व्यवस्थाएं पटरी पर लौटी हैं। साथ ही धीरे-धीरे तीर्थयात्रियों की भीड़ में भी कमी देखने को मिल रही है। शुक्रवार को ऋषिकेश स्थित चारधाम बस टर्मिनल कपाउंड के फोटोमैट्रिक पंजीकरण में यात्रियों का आसानी से पंजीकरण किया गया। एसडीआएफ निरीक्षक कविंद्र सजवाण ने बताया कि शुक्रवार को 1400 यात्रियों ने चारधाम यात्रा के लिए पंजीकरण कराया।

उत्तराखंड में एक बार फिर मौसम बदलने जा रहा है। आने वाले चार दिनों तक प्रदेश में मौसम पूरी तरह बदला हुआ नजर आएगा। मौसम विभाग ने अगले कुछ दिनों तक राज्य में चार धाम समेत अनेक जिलों में बारिश का पूर्वानुमान लगाया है। ऐसे में पर्यटन विभाग ने उत्तराखण्ड आने वाले पर्यटकों से अपील की है।
उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद (यूटीडीबी) में बने कंट्रोल रूम के ट्रोल फ्री नंबर या मौसम विभाग की आधिकारिक वेबसाइट से मौसम व मार्गों की पूर्ण जानकारी लेकर और पंजीकरण करने के बाद ही उत्तराखण्ड आने का प्लान बनाए। इसके अलावा यात्रा के दौरान तीर्थयात्री ऊनी कपड़े, छाता, रेनकोट, वाटरप्रूफ ट्रेकिंग शूज, चलने की छड़ी, टोपी, दस्ताने भी अपने साथ रखें। मौसम विभाग के अनुसार 17 जून को अधिकांश स्थानों में गर्जन के साथ हल्की से मध्यम वर्षा होने के आसार हैं। जबकि उत्तरकाशी, देहरादून, नैनीताल, बागेश्वर व पिथौरागढ़ जिले में कहीं-कहीं भारी वर्षा होने की संभावनाएं जताई हैं। 18 जून को भी राज्य में बारिश की संभावना है।

जबकि 19 जून को गढ़वाल व कुमाऊं मंडल के क्षेत्रों में गर्जन के साथ हल्की से मध्यम वर्षा होने की संभावना है। 20 व 21 जून को प्रदेश के जनपदों में कहीं-कहीं तीव्र बौछार होने के साथ कुमाऊं मंडल के जिलों के अनेक स्थानों व गढ़वाल मंडल के जिलों के कुछ स्थानों में हल्की से मध्यम गजर्न के साथ बारिश होने के आसार हैं। मौसम विभाग ने भारी बारिश की संभावना वाले जिलों में हल्का भूस्खलन, चट्टान गिरने, सड़कें बंद होने, नदी-नालों में पानी बढ़ने को लेकर चेतावनी जारी की है। ऐसे में किसी भी प्रकार की परेशानी से बचने के लिए पर्यटकों को उत्तराखण्ड आने से पहले मौसम व मार्गों की पूर्ण जानकारी लेकर आने की सलाह दी जाती है।

पर्यटक कंट्रोल रूम के टोल फ्री नंबर 0135-1364 व 0135-2559898, 0135-2552627 समेत आपदा प्रबंधन के टोल फ्री नंबर 1070 या 0135-276066 व मौसम विभाग की आधिकारिक वेबसाइट (https://mausam.imd.gov.in) पर मार्ग व मौसम की जानकारी ले सकते हैं।



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top