Breaking News
मुख्यमंत्री धामी ने चम्पावत को आदर्श जनपद बनाने के लिए बनाई जा रही कार्ययोजना और कार्यों की समीक्षा की
मुख्यमंत्री धामी ने चम्पावत को आदर्श जनपद बनाने के लिए बनाई जा रही कार्ययोजना और कार्यों की समीक्षा की
अब सैमसंग वॉलेट के जरिये कर सकेंगे फ्लाइट, बस, फिल्में और इवेंट की टिकट बुकिंग
अब सैमसंग वॉलेट के जरिये कर सकेंगे फ्लाइट, बस, फिल्में और इवेंट की टिकट बुकिंग
मुख्य सचिव से सीआरपीएफ के प्रशिक्षु अधिकारियों ने की शिष्टाचार भेंट
मुख्य सचिव से सीआरपीएफ के प्रशिक्षु अधिकारियों ने की शिष्टाचार भेंट
महाराज ने आपदा प्रभावित ग्राम सुकई के परिवारों को राहत सामग्री की वितरित
महाराज ने आपदा प्रभावित ग्राम सुकई के परिवारों को राहत सामग्री की वितरित
चौंदकोट के लाल साकेत ने किया कमाल
चौंदकोट के लाल साकेत ने किया कमाल
कृषि मंत्री बनते ही एक्शन में शिवराज सिंह चौहान, इन प्रस्तावों को दी मंजूरी
कृषि मंत्री बनते ही एक्शन में शिवराज सिंह चौहान, इन प्रस्तावों को दी मंजूरी
बहुमंजिला इमारत में लगी भीषण आग, 49 लोगों की मौत, मृतकों में 40 भारतीय
बहुमंजिला इमारत में लगी भीषण आग, 49 लोगों की मौत, मृतकों में 40 भारतीय
मुख्य सचिव ने 383.11 करोड़ रूपये के प्रोजेक्ट तत्काल नाबार्ड को भेजने के दिए सख्त निर्देश 
मुख्य सचिव ने 383.11 करोड़ रूपये के प्रोजेक्ट तत्काल नाबार्ड को भेजने के दिए सख्त निर्देश 
रोजाना खाली पेट कच्चा लहसुन खाने से मिल सकते हैं कई स्वास्थ्य लाभ
रोजाना खाली पेट कच्चा लहसुन खाने से मिल सकते हैं कई स्वास्थ्य लाभ

देश में प्राकृतिक गैस के दाम अक्टूबर माह में फिर बढ़ने की आशंका

देश में प्राकृतिक गैस के दाम अक्टूबर माह में फिर बढ़ने की आशंका

[ad_1]

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड का अनुमान है कि देश में प्राकृतिक गैस के दाम अक्टूबर में फिर से बढ़ सकते हैं। वैश्विक स्तर पर ऊर्जा कीमतों में वृद्धि से पहले ही गैस के दाम उच्च स्तर पर हैं, जिससे कंपनी के गैस अन्वेषण व्यवसाय को लाभ मिल रहा है। कंपनी में वरिष्ठ उपाध्यक्ष संजय रॉय ने निवेशकों के साथ चर्चा की और इस दौरान कहा कि केजी-डी 6 ब्लॉक से निकलने वाली गैस की प्राइस कैप मौजूदा 9.92 डॉलर प्रति दस लाख ब्रिटिश थर्मल यूनिट (एमएमबीटीयू) से ज्यादा हो सकती है।

अंतरराष्ट्रीय कीमतों के आधार पर सरकार हर छह महीने में गैस के दाम तय करती है। पुराने या नियमित क्षेत्रों से निकलने वाली गैस की कीमत एक अप्रैल से दोगुनी होकर 6.1 डॉलर हो गई है। वहीं, मुश्किल क्षेत्रों जैसे- गहरे समुद्र से निकलने वाली गैस की कीमत 9.92 डॉलर है। फिलहाल, गैस की कीमतों में अगला बदलाव अक्टूबर में होना है, जिसके बारे में रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने अनुमान जताया है कि तब गैस की कीमतें फिर से बढ़ सकती हैं।

मौजूदा अंतरराष्ट्रीय परिदृश्य को देखते हुए यह अनुमान लगाया जा रहा है कि सरकार के स्वामित्व वाले तेल और प्राकृतिक गैस निगम के पुराने क्षेत्रों से निकलने वाली गैस की कीमत लगभग 9 अमरीकी डालर प्रति  तक बढ़ जाएगी और कठिन क्षेत्रों से निकलने वाली गैस के लिए यह दो अंकों तक बढ़ जाएगी। रॉय ने कहा, ‘‘आगे के लिए अनुमान है कि वित्त वर्ष की पहली छमाही में गैस की कीमत 9.92 डॉलर तक हो सकती है और फिर दूसरी छमाही में कीमतें और भी बढ़ सकती हैं।’’



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top