Breaking News
रोहित शेट्टी के शो में नीति टेलर की होगी एंट्री, खतरों के खिलाड़ी 14 में मचेगा तहलका
रोहित शेट्टी के शो में नीति टेलर की होगी एंट्री, खतरों के खिलाड़ी 14 में मचेगा तहलका
दार्जिलिंग की उपेक्षा कर रही है ममता- महाराज
दार्जिलिंग की उपेक्षा कर रही है ममता- महाराज
कांग्रेस के दिग्गज नेता हरक सिंह रावत की पुत्रवधु अनुकृति ने थामा बीजेपी का दामन 
कांग्रेस के दिग्गज नेता हरक सिंह रावत की पुत्रवधु अनुकृति ने थामा बीजेपी का दामन 
एक्शन मोड में धनदा, चारधाम यात्रा को लेकर कसे स्वास्थ्य अधिकारियों के पेच
एक्शन मोड में धनदा, चारधाम यात्रा को लेकर कसे स्वास्थ्य अधिकारियों के पेच
इलेक्शन में व्यस्तता के बीच भी एक्शन मोड में हैं मुख्यमंत्री धामी
इलेक्शन में व्यस्तता के बीच भी एक्शन मोड में हैं मुख्यमंत्री धामी
लगातार धधक रहे उत्तराखंड के जंगल, वन संपदा को पहुंच रहा भारी नुकसान 
लगातार धधक रहे उत्तराखंड के जंगल, वन संपदा को पहुंच रहा भारी नुकसान 
गर्मियों में आरामदायक और ट्रेंडी दिखने के लिए वॉर्डरोब में शामिल करें ये फुटवियर्स
गर्मियों में आरामदायक और ट्रेंडी दिखने के लिए वॉर्डरोब में शामिल करें ये फुटवियर्स
ऋषिकेश के चीला बैराज में डूबे युवक का शव बरामद
ऋषिकेश के चीला बैराज में डूबे युवक का शव बरामद
पीएम मोदी देश में ‘भ्रष्टाचार की पाठशाला’ चला रहे हैं’- राहुल गांधी
पीएम मोदी देश में ‘भ्रष्टाचार की पाठशाला’ चला रहे हैं’- राहुल गांधी

दून अस्पताल के हड्डी रोग विभाग में दलालों का राज, इंप्लांट डालने के नाम पर हो रहा कमाई का खेल, उपचिकित्सा अधीक्षक डा. एनएस खत्री ने तलब की रिपोर्ट

दून अस्पताल के हड्डी रोग विभाग में दलालों का राज, इंप्लांट डालने के नाम पर हो रहा कमाई का खेल, उपचिकित्सा अधीक्षक डा. एनएस खत्री ने तलब की रिपोर्ट

[ad_1]

देहरादून। दून मेडिकल कालेज चिकित्सालय (दून अस्पताल) प्रदेश का सबसे बड़ा अस्पताल है। मरीजों का सबसे ज्यादा दबाव भी यही अस्पताल झेलता है। यही नहीं अपनी कार्यशैली को लेकर भी सुर्खियों में हमेशा दून अस्पताल ही रहता है। अस्पताल से मेडिकल कालेज बनने के बाद भी इसकी कार्यशैली में कोई खास सुधार होता हुआ दिखाई नहीं दिया। तमाम तरह के आरोप समय-समय पर अस्पताल के स्टाफ व चिकित्सकों पर लगते रहते हैं। ताजा मामला अस्पताल के हड्डी रोग विभाग से जुड़ा हुआ है। हड्डी रोग विभाग पर आरोप लगाते हुए मरीज मेहरबान अली का कहना है कि हड्डी रोग विभाग में दलालों का राज है। स्थिति यह है कि अटल आयुष्मान योजना के तहत भी मरीजों को कुछ चुनिंदा जगह से इंप्लांट लाने के लिए बाध्य किया जा रहा है। ऐसा नहीं करने पर मरीज को अन्यत्र रेफर कर दिया जा रहा है। मामले की गंभीरता को देखेते हुए सख्ती के बाद उपचिकित्सा अधीक्षक डा. एनएस खत्री ने हड्डी रोग के विभागाध्यक्ष से एक सप्ताह में रिपोर्ट तलब की है।

वहीं इस पूरे मामले में सुराज सेवा दल के कार्यकर्त्‍ताओं ने सोमवार को अस्पताल में प्रदर्शन किया। उन्होंने उपचिकित्सा अधीक्षक को ज्ञापन देकर व्यवस्था में सुधार की मांग की है। दल के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के महानगर महासचिव मेहरबान अली ने बताया कि उनके हाथ में फ्रैक्चर हो गया था। यह एक मेडिकोलीगल केस था। इमरजेंसी में दिखाने पर उनका एक्सरे किया गया, लेकिन यह कहकर रिपोर्ट नहीं दी गई कि रेडियोलाजिस्ट नहीं है। अटल आयुष्मान के तहत उन्हें हड्डी रोग विभाग में भर्ती किया गया। चिकित्सकों ने इंप्लांट डालने की बात कही।

आरोप है कि इंप्लांट बाहर से लाने को कहा गया, जिसके लिए एकाएक कई लोग उसे संपर्क करने लगे। इन दलालों को तवज्जो नहीं देने पर चिकित्सकों ने यह कहकर उन्हें रेफर कर दिया कि उनका आपरेशन यहां नहीं होगा। बाद में उन्होंने कोरोनेशन अस्पताल में आपरेशन कराया। उन्होंने कहा कि आयुष्मान योजना के तहत भी मरीजों को निशुल्क इलाज नहीं मिल रहा है। मरीजों से बाहर से दवा मंगाई जा रही है। हड्डी के आपरेशन के दौरान जो इंप्लांट प्रयोग होते हैं, उन्हें बाहर से खरीदने को कहा जा रहा है। प्रदर्शन में राजेंद्र पंत, मोहिनी, मनिका, प्रकाश, अंजू, सुनीता, संजय आदि कार्यकर्त्‍ता शामिल रहे।



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top