Breaking News
गर्मियां शुरू होते ही जंगल की आग होने लगी बेकाबू, भारी मात्रा में वन संपदा को नुकसान 
गर्मियां शुरू होते ही जंगल की आग होने लगी बेकाबू, भारी मात्रा में वन संपदा को नुकसान 
बीजेपी ने स्टार प्रचारक की लिस्ट से हटाया सीएम शिंदे और डिप्टी सीएम अजित पवार का नाम
बीजेपी ने स्टार प्रचारक की लिस्ट से हटाया सीएम शिंदे और डिप्टी सीएम अजित पवार का नाम
आईपीएल 2024- राजस्थान रॉयल्स और पंजाब किंग्स के बीच मुकाबला आज 
आईपीएल 2024- राजस्थान रॉयल्स और पंजाब किंग्स के बीच मुकाबला आज 
कड़े कानून लागू करने से लेकर हर वर्ग का कल्याण किया- मुख्यमंत्री
कड़े कानून लागू करने से लेकर हर वर्ग का कल्याण किया- मुख्यमंत्री
विक्की कौशल, तृप्ति डिमरी और ऐमी विर्क बड़े पर्दे पर मचाएंगे धमाल, फिल्म ‘बैड न्यूज’ की रिलीज तारीख का हुआ ऐलान
विक्की कौशल, तृप्ति डिमरी और ऐमी विर्क बड़े पर्दे पर मचाएंगे धमाल, फिल्म ‘बैड न्यूज’ की रिलीज तारीख का हुआ ऐलान
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने न्याय संकल्प सभा को किया संबोधित, कहा उत्तराखंड से उनका खास रिश्ता है…..
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने न्याय संकल्प सभा को किया संबोधित, कहा उत्तराखंड से उनका खास रिश्ता है…..
सुप्रीम कोर्ट 15 अप्रैल को अरविंद केजरीवाल की याचिका पर करेगा सुनवाई
सुप्रीम कोर्ट 15 अप्रैल को अरविंद केजरीवाल की याचिका पर करेगा सुनवाई
चार धाम सहित पंचकेदार पंच बदरी के कपाट खुलने की तिथियां घोषित
चार धाम सहित पंचकेदार पंच बदरी के कपाट खुलने की तिथियां घोषित
सिरदर्द होने पर तुरंत पेनकिलर न खाएं, इस बीमारी का बढ़ जाता है खतरा
सिरदर्द होने पर तुरंत पेनकिलर न खाएं, इस बीमारी का बढ़ जाता है खतरा

बसपा नेता पार्टी छोड कांग्रेस में हुए शामिल

[ad_1]

रुड़की। लक्सर में बसपा के नेता बिजेंद्र सिंह ने अपने भाई रविंद्र सिंह के साथ गत दिवस पार्टी छोड़ने की घोषणा कर दी। इसके साथ ही वह देहरादून पहुंचकर पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल की मौजूदगी कांग्रेस में शामिल हो गए। बिजेंद्र सिंह लक्सर से दो बार जिपं सदस्य रहे हैं। मूलत: अब्दुल्लापुर (देवबंद) निवासी रविंद्र सिंह करीब तीन दशक से परिवार सहित लक्सर में रहते हैं। शुरू से वे बसपा के सक्रिय कार्यकर्ता थे। 2011 मे रविंद्र ने अपनी भाभी सविता पंवार का खड़ंजा कुतुबपुर सीट से जिपं सदस्य बनवाकर अपनी ताकत दिखाई थी। 2016 में उन्होंने इसी सीट से अपने भाई बिजेंद्र सिंह को चुनाव लड़ाया और जिपं अध्यक्ष रहे कांग्रेस के दिग्गज नेता चौधरी राजेंद्र सिंह को हराकर दूसरी बात जीत हासिल की।

दो साल पहले भाजपा सरकार में उन्होंने अपने चहेते को न सिर्फ गन्ना समिति का सदस्य नामित कराया, बल्कि उसे जीत भी दिलाई। इसके बाद गन्ना परिषद में भी अपने खास का अध्यक्ष बनवाकर उन्होंने अपनी ताकत का एहसास कराया। परंतु पिछले करीब एक डेढ़ साल से बसपा के स्थानीय नेताओं से उनकी नाराजगी चल रह थी। रविवार को रविंद्र सिंह व बिजेंद्र सिंह अपने समर्थकों के साथ देहरादून पहुंचे और पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत तथा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल की मौजूदगी में कांग्रेस की सदस्यता ले ली। सोमवार का उन्होंने प्रेसवार्ता कर बताया कि बसपा की गलत नीतियों के कारण वे कांग्रेस में शामिल हुए हैं। कहा कि पार्टी लक्सर व खानपुर में जिसे भीर टिकट देगी, वे उसके लिए काम करेंगे और उसे जीताकर विधानसभा में भेजेंगे।



[ad_2]

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top